CAA और NRC के विरोध में विपक्ष ने गांधी यात्रा शुरू की...

मुम्बई: नागरिकता संशोधन कानून (CAA), एनआरसी और एनपीआर के खिलाफ विपक्ष की मुंबई के गेट वे ऑफ इंडिया से गांधी शांति यात्रा शुरू हो गई है। गांधी शांति यात्रा को शुरू करने के लिए कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चौहान, एनसीपी प्रमुख शरद पवार और नवाब मलिक भी गेट वे ऑफ इंडिया पहुंचे।


मुंबई से शुरू हुआ यह गांधी मार्च 21 दिन बाद दिल्ली के राजघाट पर खत्म होगा। दरअसल, सीएए, एनआरसी और एनपीआर के खिलाफ और दिल्ली के जेएनयू हमले जैसी 'सरकार प्रायोजित हिंसा' की सुप्रीम कोर्ट के मौजूदा न्यायाधीश द्वारा न्यायिक जांच कराने की मांग को लेकर यशवंत सिन्हा मुंबई से शुरू हो रही बहुराज्यीय यात्रा का नेतृत्व कर रहे हैं। 


इस यात्रा को एनसीपी शरद पवार ने हरी झंडी दिखाई। इस यात्रा में एनसीपी कार्यकर्ता और नेता भी शामिल हुए है। बता दें कि महाराष्ट्र में एनसीपी, शिवसेना और कांग्रेस तीनों गठबंधन में है। 


यशवंत सिन्हा ने मुंबई में पत्रकारों से कहा कि 'गांधी शांति यात्रा' के दौरान सरकार से यह मांग भी की जाएगी कि वह संसद में घोषणा करे कि राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) नहीं कराई जाएगी।''


Popular posts